नगरी विकासखंड में शिक्षा के स्तर को बढ़ाने 12 नवम्बर को नेशनल एचिव्हमेंट सर्वेक्षण परीक्षा सफलतापूर्वक संपन्न.

धमतरी. नगरी वनांचल स्थित आदिवासी विकासखंड नगरी में कलेक्टर पी.एस.एल्मा के मार्गदर्शन में शिक्षा के स्तर को बढ़ाने के उद्देश्य से 12 नम्बर को राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण परीक्षा सफलतापूर्वक संपन हुआ। विकासखंड शिक्षा अधिकारी नगरी सतीश प्रकाश सिंह ने बताया की विकासखंड नगरी में राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण परीक्षा 12 नवम्बर को प्रातः 7:30 बजे से दोपहर 2:30 बजे तक 27 केन्द्रों में शांतिपूर्वक आयोजित की गयी थी।

संचालक राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रषिक्षण परिषद छत्तीसगढ़ रायपुर के निर्देशानुसार जिला शिक्षा अधिकारी धमतरी डा.रजनी नेल्सन के निर्देशन में नेशनल एचिव्हमेंट सर्वे परीक्षा 2021 में नगरी विकासखंड के कुल 643 छात्र-छात्राएं सम्मिलित हुए | राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण परीक्षा के सुचारु क्रियान्वयन हेतु विकासखंड शिक्षा अधिकारी नगरी श्री सिंह द्वारा नौ उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों के प्राचार्य – बी.एस.नागेश,महेश नाग,के.एन.पांडे,देवेश कुमार सूर्यवंशी,श्रीमती प्रभा ठाकुर,आर.के.बैस,एम्.एल.नेताम,श्रीमती एम्.रामटेके, डा.श्रीमती एस.चन्द्रा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया था,जिनके द्वारा परीक्षा केन्द्रों में उपस्थित होकर मॉनिटरिंग की गयी। विकासखंड स्तरीय कन्ट्रोल रूम में श्रीमती एम्.ध्रुव ए.बी.ई.ओ. बी.आर.सी.बी.एम्.साहू द्वारा जानकारी संकलित की गयी वही नेशनल एचिव्हमेंट सर्वे परीक्षा में नगरी विकासखंड के 27 केंद्र शासकीय-अशासकीय विद्यालयों में कक्षा तीसरी,पांचवी,आठवी एवं दसवीं के कुल 643 छात्र-छात्राएं सम्मिलित हुए। बी.ई.ओ. ने विभिन्न परीक्षा केन्द्रों का निरीक्षण कर संस्था प्रमुखों, नोडल प्राचार्यों,संकुल शैक्षिक समन्वयकों को नेशनल एचिव्हमेंट सर्वे परीक्षा के सुचारू क्रियान्वयन हेतु आवश्यक निर्देश दिए |परीक्षा केन्द्रों में नियुक्त आब्जर्वर एवं दो फील्ड इन्वेस्टिगेटर द्वारा परीक्षा का संचालन किया गया। राष्ट्रीय स्तर पर 12 नवम्बर को संपन्न हुए नेशनल एचिव्हमेंट सर्वे के माध्यम से नगरी विकासखंड में विद्यार्थियों की परीक्षा में सम्मिलित होने से शिक्षा के स्तर को बढ़ाने में योगदान प्राप्त हुआ | परीक्षा केन्द्रों में पेयजल,पंखे,बैठक व्यवस्था,पर्यवेक्षकों के आवासीय व्यवस्था सहित सेनेटाईजर,मास्क सोशल डिस्टेंस,स्वच्छता,साफ़-सफाई सहित शासकीय प्राथमिक, माध्यमिक शालाओं में छात्र-छात्राओं के लिये मध्यान्ह भोजन की समुचित व्यवस्था उपलब्ध रही |

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *