वीडियो-एसपी सिंह ने जिले की बेटियों का बढ़ाया मान,पुलिसिंग के सिखाए गुर से गदगद यूनिसेफ इंडिया ने ट्विटर पर किया कवर तो गृहमंत्री की मिली तारीफ.

मुंगेली.जिले की पुलिसिंग के लिए एक अच्छी खबर आ रही है, बाल सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर एसपी से लेकर थाना प्रभारी का चार्ज बच्चों के हाथ देने पुलिस कप्तान इस अनूठी पहल को हर तरफ से वाहवाही मिल रही है इधर यूनिसेफ इंडिया ने भी मुंगेली पुलिस की पहल को अपने ट्विटर पेज पर कवर किया है तो वही प्रदेश के गृहमंत्री ने भी बच्चों को एक नई दिशा दिखाने को लेकर एसपी और उनकी टीम को बधाई दी है।

जिले के पुलिस कप्तान चंद्रमोहन सिंह एक अनूठी पहल से जिले की पुलिसिंग का नाम राज्य के साथ सोशल मीडिया पर भी खूब सुर्खियां बटोर रहा है। राज्य के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने ट्वीट एसपी जिला पुलिस की अभिनव पहल को सराहनीय करार दे बधाई दी है तो वही मुंगेली पुलिस ने यूनिसेफ इंडिया के ट्विटर पेज पर भी अपनी जगह बनाई है।

मामलू हो कि बाल सुरक्षा सप्ताह के छठवें दिन शनिवार को एसपी चंद्रमोहन सिंह को एक नया आइडिया सुझा और उन्होंने जिले में एसपी से लेकर थाना इंचार्ज तक एक दिन का कामकाज बच्चों को देने का प्लान किया।

जिसके बाद सूदूर वनांचल क्षेत्र झिरिया की बेटी कु. वंदना मेरावी को बनाया, शासकीय पूर्व माध्यमिक स्कूल सरगढ़ी के आठवी क्लास की स्टूडेंट वंदना पुलिस की ड्रेस पहनने के बाद इतनी प्रभावित हुई कि उनसे बडी होकर पुलिस अफसर बनने की इच्छा जाहिर की है।

वंदना ने सीखा पुलिसिंग के गुर.

एएसपी प्रतिभा पाण्डेय ने बताया कि एसपी बनते ही वंदना ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय का निरीक्षण, अधिनस्थ अधिकारी/कर्मचारियों से मुलाकात कर शहर में यातायात व्यवस्था का लिया जायजा वही जिले के सभी थानों में थाना प्रभारी बनकर अन्य बच्चो ने पुलिसिंग का कामकाज सीखा.

गर्व महसूस हो रहा-मेरावी

एसपी बनकर वंदना मेरावी ने कहा की मुझे गर्व महसूस हो रहा है,गांव को बिटिया ने बड़े रुतबे से गलत को सुधारना ,महिला ,बच्चो से छेड़छाड़ करने वालो को जेल भेजने की बात भी कही,थाना निरीक्षण के दौरान वंदना ने एक दिन की थाना प्रभारी कु. कनिष्का ठाकुर से चर्चा की तथा अपराध घटित होने की संख्या की जानकारी ली।
बेटी वंदना को एसपी बने देखकर किसान पिता नरेश मेरावी ने बेटी के इस सम्मान और एसपी बनने की इच्छा पूरा करने के लिए मुंगेली पुलिस का आभार व्यक्त किया। वंदना के टीचर कृष्नचंद्र राजपूत और झिरिया सरपंच नरेश कुमार तिलगम ने भी दुरुस्त वनाचल ग्राम की बच्ची को प्रोत्साहित करने से अन्य बच्चो में शिक्षा और कैरियर के प्रति जागरूकता लाने और बच्चो का मनोबल बढ़ाने के एसपी सिंह को धन्यवाद दिया।

इन्होंने संभाला थाना प्रभारी का चार्ज.

बाल सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर एसपी ने जिले के सभी थानों में बच्चों को थाना प्रभारी बनाया।थाना प्रभारी पथरिया छात्रा दीपिका राजपूत ने पुलिस अधीक्षक को फोन करके थाना क्षेत्र की खैरियत नोट कराया एवम बच्चो के अधिकार और सुरक्षा के सम्बंध में अन्य बच्चो के जागरूकता की जानकारी दी। थाना मुंगेली कु. कनिष्का ठाकुर, थाना जरहागांव कु. दीप्ती मानिकपुरी, थाना सरगांव में मनप्रीत कौर हूरा, थाना पथरिया दीपिका राजपूत एवं थाना लोरमी सुप्रिया को थाना प्रभारी बनाया गया। सुप्रिया ने बाल सुरक्षा सप्ताह कार्यक्रम को थाना प्रभारी के रूप में ग्राम कोटरी में संपादित किया,उनके साथ डीएसपी साधना सिंह भी उपस्थित रहीं। थाना फास्टरपुर में प्रिया धृतलहरे को थाना प्रभारी बनाया गया।

एएसपी पाण्डेय ने मीडिया को दिया धन्यवाद.

एएसपी प्रतिभा पाण्डेय ने इस सफल आयोजन के लिए जिले की मीडिया को धन्यवाद दिया है। उन्होंने कहा कि बाल सुरक्षा सप्ताह के आयोजन मे सभी का बहुत अच्छा सहयोग एवम मुंगेली पुलिस के पहल को आम जन तक पहुंचाने हेतु जिला पुलिस मुंगेली की ओर से सभी प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथियों का बहुत आभार।
मुंगेली पुलिस टीम के प्रयास और आप सभी के सहयोग से यूनिसेफ के पेज और ट्विटर पर मुंगेली पुलिस.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *