मनमाना तौर से शहर के बीच पटाखा गोडाउन रखने वाले सुनील तोलानी की जिला प्रशासन की टीम ने निकाली आतिशबाजी,काम नहीं आई होशियारी गोदाम सील. देखिए नजारा.

बिलासपुर. जिला प्रशासन की टीम शनिवार की दोपहर शहर के रिहायशी इलाके में पिछले काफी समय से पटाखा का कारोबार करने वाले सुनील प्लास्टिक के संचालक के पटाखा गोदाम की अचानक जांच करने पहुंची, जहा संचालक के सामने जिला प्रशासन की टीम ने गोदाम को चारों तरफ चेक किया और कई तरह की खामियां पाई इधर जिला प्रशासन की टीम ने गोदाम को सील कर दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार तेलीपारा मेन रोड होटल अजीत के सामने स्थित सुनील प्लास्टिक का संचालक सुनील कुमार तोलानी बीते काफी समय से शहर के बीच सरजू बगीचा में भारी मात्रा में पटाखा का भंडार कर दीपावली में जमकर कारोबार करता आ रहा है। इस बात की सूचना पहले भी जिला और पुलिस प्रशासन को थी.

लेकिन राज्य में बीजेपी की साय सरकार आने के बाद मनमानी करने वालो पर नकेल कसने का फरमान जारी होते ही नींद से जागे जिला प्रशासन के अफसरों ने अचानक सुनील प्लास्टिक के पटाखा गोदाम की जांच की, कलेक्टर अवनीश शरण का निर्देश मिलते ही डिप्टी कलेक्टर शिवकुमार कंवर , तहसीलदार अतुल वैष्णव , जोन कमिश्नर संदीप श्रीवास्तव,प्रयोगशाला सहायक संजय मिश्रा की संयुक्त टीम ने पटाखा गोदाम का रख रखाव और मापदंड को चेक किया।

मिली भारी अनियमितताएं.

तहसीलदार वैष्णव ने बताया कि लाइसेंस धारी सुनील कुमार तोलानी के सरजू बगीचा स्थित पटाखा दुकान में लाइसेंस, स्थल, भंडारण, क्रय विक्रय की जांच की गई।
उक्त दुकान में अनुज्ञप्ति के अनुसार कुल पटाखों की क्षमता 1500 किलोग्राम से बहुत अधिक पाई गई।दुकान रिहायशी इलाके में स्थित है। उक्त पटाखे के दुकान में विधि विरुद्ध तरीके से प्लास्टिक की दुकान का भी संचालन किया जा रहा है, पटाखों के साथ साथ प्लास्टिक के बहुत सारे सामान भी एकत्रित किए गए हैं, कुल पटाखों की मात्रा लगभग 5000 किलोग्राम से अधिक मिली, क्रय विक्रय का लेखा जोखा विधिसम्मत तरीके से संधारित नही किया गया है, दुकान के अंदर अग्निशमन यंत्र नहीं रखा गया है। दुकान के शटर में स्टॉपर नही है वही दुकान में क्षमता से अधिक पटाखों के संधारण और बहुत अधिक अनियमितता पाए जाने के कारण मौके पर दुकान को सील किए जाने की कार्यवाही जिला प्रशासन की टीम ने की है।

धरी रह गई होशियारी.

सुनील प्लास्टिक के पटाखा गोदाम में जैसे ही जिला प्रशासन की टीम के पहुंचने की खबर सुनील तोलानी को मिली तो उसने अफसरों को सेट करने का खेल शुरू कर दिया। इसके बाद भी जब जिला प्रशासन की टीम सेट नही हुई तो तरह तरह की बाते कर सुनील तोलानी ने अफसरों को घुमाया उसकी इस हरकत से तहसीलदार वैष्णव उखड़ गए और सीधे तौर पर जांच में सहयोग करने की चेतावनी दी तब कही जिला प्रशासन की टीम ने बारीकी से पटाखा गोदाम को चेक कर सील कर दिया।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *