पति से हुआ विवाद तो पत्नी ने कैंची मारकर की हत्या,मामले का खुलासा करते हुए एसपी पटेल ने कहा पुलिस के लिए बड़ी कामयाबी.

महासमुंद.जिले के थाना खल्लारी अंतर्गत ग्राम तमोरा में हुए रामकुमार दीवान की हत्या के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है,इस मामले में पुलिस की सफलता को एसपी बड़ी कामयाबी करार दे बताया कि साजिशकर्ता मृतक की पत्नी भुनेश्वरी दीवान को गिरफ्तार किया गया है।

एक नजर पूरे मामले पर.

25 सितंबर को स्थानीय अस्पताल से पुलिस को सूचना मिली कि ग्राम तमोरा के रहने वाले रामकुमार दीवान की मृत्यु हो गई है। अस्पतालकर्मी ने जानकारी दी की रामकुमार के शरीर पर गहरे चोट हैं। मामले को संज्ञान में लेते हुए खल्लारी थाना पुलिस ने जांच शुरू की।

मामले का खुलासा करते हुए एसपी भोजराम पटेल ने बताया कि मृतक की पत्नी भूनेश्वरी ने पूरे घटनाचक्र का दोष छूपाने के लिए नाटक रचा और घटना की रात अपने परिजनों को मोबाइल से सूचना देते हुए बताया कि उसके पति रामकुमार की तबियत बेहद खराब है। उसका शरीर अपने आप फट रहा है और खून निकल रहा है। भूनेश्वरी के जानकारी देने पर पड़ोसी और परिजन उसके घर पहुंचे और पाया कि रामकुमार घर के आंगन में बिछे बिस्तर पर लहु-लुहान हाल पर पड़ा है। रामकुमार के बाएं गाल, सीने, हाथ की कलाई, भुजा और हथेली में चोट आई थी। परिजनों ने रामकुमार को इलाज के लिए जिला अस्पताल महासमुंद ले जाया गया। डॉक्टर ने बताया कि किसी धारदार हथियार से रामकुमार के पूरे शरीर पर वार किया गया है। मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस ने अज्ञात अरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू की और इस पूरे घटनाचक्र का पता लगाया।

इधर एसपी भोजराम पटेल ने मामले की गंभीरता को देखते हुए चार टीम गठित कर बारिकी से जांच के निर्देश दिए। सभी टीम ने अलग-अलग क्षेत्रों में सीसीटीवी फुटेज की जांच की और साइबर सेल की तकनीकि सहायता से अज्ञात आरोपी के बारे में जानकारी एकत्र करना शुरू किया। रामकुमार के मृत्यु के संबंध पत्नी से पूछताछ करने पर उसने शरीर के फटने से मृत्यु होना बताया। पत्नी की बातों पर शक होने से उससे सख्ती से पूछताछ की गई, तो पत्नी ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया।

भूनेश्वरी ने बताया कि उसकी 8 महीने की बेटी है और जब से रामकुमार से उसकी शादी हुई थी तब से ही घर पर विवाद की स्थिति बनी रहती थी और कई कारणों से आपस में टकराव होता रहता था। घटना वाली रात दोनों के बीच आपस में फिर बहस और झड़प हुई और भूनेश्वरी ने कैंची से रामकुमार के शरीर पर हमला कर उसे मार डाला। कैंची को धोकर वापस कमरे में छूपाकर रख दिया ताकि किसी को भी शक न हो और पूरी घटना की झूठी कहानी बनाकर सभी को बताती रही।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *