इधर छोटे जोगी की गिरफ्तारी से मचा सियासी हड़कंप तो कुणाल शुक्ला ने अमित की गिरफ्तारी को ठहराया सही..

रायपुर/बिलासपुर. पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के पुत्र अमित जोगी की एकाएक गिरफ्तारी के बाद प्रदेश समेत देश की राजनीतिक फिजा में भूचाल आ गया है फर्जी जाति प्रमाण पत्र बनवाने के आरोप में पुलिस की गिरफ्त में आये लिटिल जोगी की पत्नी और जोगी परिवार समेत उनके समर्थक जहा गिरफ्तारी का विरोध कर रहे हैं तो वही राजधानी के जानेमाने सामाजिक कार्यकर्ता और आरटीआई एक्टिविस्ट कुणाल शुक्ला ने अमित जोगी का सारा काला लेखा जोखा एक बार फिर उजागर कर इस गिरफ्तारी का स्वागत किया है।श्री शुक्ला ने सोशल मीडिया के माध्यम से भेजे पत्र में कहा है कि मूलतः अमेरिका में जन्म लेने वाले अमित जोगी ने इसके बाद भारत के दो स्थानों क्रमशः इंदौर तथा पेंड्रारोड़ में जन्म लिया और फर्जीवाड़े की नई ऊंचाइयों को स्थापित किया। यानी कि तीन स्थानों में अलग अलग तिथियों में जन्म.भारतीय नागरिकता लेते समय अमित जोगी का जन्म टैक्सास में होता है इंटरनेशनल ड्राइविंग लाइसेंस बनवाते समय अमित जोगी का जन्म इंदौर में हो गया।वहीं 2013 में जाति प्रमाणपत्र बनवाते समय अमित जोगी का जम्म पेंड्रारोड़ मरवाही में हो जाता है।
इन सबके कागजी एविडेंस के बाद भी अमित जोगी अपनी ए टीम के आका रमन सिंह की मदद से बचते रहे थे लेकिन आज पुलिस ने इस फ़र्ज़ी व्यक्ति को गिरफ्तार कर प्रदेश के लाखों आदिवासियों को न्याय दिया है।

मालूम हो कि पेंड्रा थाने में दर्ज अमित जोगी के खिलाफ 420 के मामले में पुलिस ने आज सुबह अमित जोगी को मरवाही सदन से गिरफ्तार कर लिया है।पेंड्रा में दर्ज कराए समीरा पैकरा के द्वारा मामले में यह आरोप लगाया गया था कि अमित जोगी ने निर्वाचन के हलफ़नामे में गलत जानकारी दी है। इस मामले में प्रकरण हाईकोर्ट भी गया था जहाँ से अमित जोगी को राहत मिली थी।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *